More

    Assembly Elections 2022 From virtual campaign to strict monitoring of programs 5 special things of assembly elections


    नई दिल्ली. भारत निर्वाचन आयोग ने शनिवार को विधानसभा चुनाव 2022 की तारीखों का ऐलान कर दिया है. पांच राज्यों- उत्तर प्रदेश, पंजाब, गोवा, उत्तराखंड, मणिपुर में होने वाले चुनाव में कोरोना वायरस महामारी भी बड़ी भूमिका में होगी. आयोग का कहना है कि यह चुनाव चुनौतीपूर्ण साबित होंगे. हालांकि, इस बार मतदाताओं और देशवासी नए सियासी अनुभव करेंगे.

    चुनाव आयोग की तरफ से जारी कार्यक्रम के अनुसार, पांच राज्यों में मतदान की शुरुआत 10 फरवरी से हो जाएगी, जो 7 मार्च तक चलेगी. यूपी में चुनावी दौर सबसे लंबा चलेगा. यहां सात चरणों में चुनाव होने हैं. 10 मार्च को मतगणना होगी. पंजाब को छोड़कर सभी राज्यों में भारतीय जनता पार्टी की सरकार है.

    ये भी पढ़ें :  Vidhan Sabha Chunav 2022 Date: 7 चरणों में चुनाव, पहले चरण का मतदान 10 फरवरी को, 10 मार्च को नतीजे

    आयोग ने कहा है कि उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, पंजाब, गोवा और मणिपुर में होने वाले विधानसभा चुनाव में  हर विधानसभा क्षेत्र में कम से कम एक पोलिंग बूथ ऐसा होगा जो पूरी तरह से महिला कर्मचारियों द्वारा ही संचालित होगा. मुख्‍य चुनाव आयुक्‍त सुशील चंद्रा ने कहा कि पांच राज्‍यों के चुनाव में 18.34 करोड़ मतदाता चुनावों में हिस्‍सा लेंगे, जिनमें से 8.55 करोड़ महिला मतदाता हैं.

    आयोग ने शनिवार को जानकारी दी है कि 15 जनवरी तक केवल वर्चुअल रैली की ही अनुमति होगी. इस दौरान उम्मीदवार या कार्यकर्ता रोड शो, रैली, पद यात्रा, साइकिल और स्कूटर रैली नहीं निकाल पाएंगे. इतना ही नहीं उम्मीदवार जीत दर्ज करने के बाद भी विजय रैली नहीं निकाल सकेंगे.

    आयोग ने इस बार वोटिंग स्टेशन पर भी मतदाताओं की संख्या में कमी की है. आंकड़ों के लिहाज से देखें, तो इस बार स्टेशन पर अधिकतम 1250 वोटर ही मौजूद रह सकेंगे. पहले यह संख्या 1500 थी.

    भारत में टीकाकरण कार्यक्रम जारी है. हालांकि, कोरोना वायरस संक्रमण के चलते बूस्टर डोज अभियान की भी शुरुआत की गई है. आयोग ने बताया है कि चुनाव संबंधी ड्यूटी में शामिल लोगों को बूस्टर डोज लगेगा.

    कोरोना वायरस महामारी से जुड़ी पाबंदियों के चलते चुनाव आयोग ने वोटिंग का समय बढ़ाने का ऐलान किया है. इसके तहत पोलिंग स्टेशन पर मतदान प्रक्रिया 1 घंटे ज्यादा चलेगी.

    इस बार आयोग उम्मीदवारों कड़ी निगरानी करने की तैयारी में है. सीईसी चंद्रा ने बताया कि सभी कार्यक्रमों की वीडियोग्राफी की जानी है. उन्होंने जानकारी दी है कि 900 ऑब्जर्वर्स की नजर चुनाव पर होगी.

    Tags: Assembly elections, ECI, Goa Elections, Manipur Elections, Punjab elections, UP elections, Uttarakhand elections



    Source link

    Latest articles

    spot_imgspot_img

    Related articles

    Leave a reply

    Please enter your comment!
    Please enter your name here

    spot_imgspot_img