More

    Prashant Kishor gave such advice to the Election Commission told that there is a danger of corona in the electoral states


    नई दिल्‍ली. चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर (Prashant Kishor) ने शुक्रवार को कहा कि कोरोना संक्रमण का बढ़ते खतरे के बीच चुनाव कराने का एकमात्र सुरक्षित तरीका बताते हुए चुनाव आयोग (election commission)  को सलाह दे दी. उन्‍होंने कहा कि चुनावी राज्‍यों में 80 फीसदी लोगों को वैक्‍सीन की दोनों डोज लगाईं जाएं. ट्विटर पर सुझाव देते हुए उन्‍होंने कहा कि वैक्‍सीन लगाना ही एकमात्र तरीका है, बाकी सब तरीके बेकार हैं. कोरोना को लेकर जो भी गाइडलाइन जारी की गई हैं, उनका उस तरह से कोई पालन नहीं करता है.

    प्रशांत किशोर, एजेंडा 2024 की तैयारियों में जुटे हैं. बताया जा रहा है कि वे ममता बनर्जी की तरफ से रणनीति बनाने का काम कर रहे हैं. पिछले दिनों उन पर आरोप लगा था कि वे कांग्रेस पार्टी को तोड़ने का काम कर रहे हैं, जब कुछ नेताओं ने कांग्रेस छोड़ तृणमूल कांग्रेस ज्‍वाइन कर ली थी. ये नेता लगातार प्रशांत किशोर के संपर्क में थे.

    ये भी पढ़ें :  देश में कोरोना से अगले 2 हफ्ते होंगे भयावह, हेल्थ एक्सपर्ट का ALERT- ये फ्लू नहीं है, जो गुजर जाएगा…

    ये भी पढ़ें :  ओमिक्रॉन का पता लगाने के लिए पहली स्वदेशी किट है ओमिश्योर, आईसीएमआर से मिली अनुमति

    इधर, चुनाव आयोग ने पांच राज्‍यों में होने वाले चुनावों को लेकर बैठक बुलाई थी. इसमें मुख्‍य चुनाव आयुक्‍त सहित अन्‍य अधिकारी मौजूद थे. बाद में बताया गया था कि इस बैठक में कोरोना के बढ़ते हुए मामलों के मद्देनजर चर्चा हुई थी और चुनाव कराने जाने को लेकर बात हुई थी. बैठक में कहा गया था कि कोरोना गाइडलाइंस में जरूरी बदलाव होंगे और पोलिंग बूथ पर भी नियमों का पालन कराया जाएगा. शुक्रवार को भी चुनाव आयोग में बैठक हुई और ऐसा मान जा रहा है कि बहुत जल्‍द चुनाव संबंधी गाइडलाइन का ऐलान होगा.

    उत्तर प्रदेश के अलावा, गोवा, मणिपुर, पंजाब और उत्तराखंड राज्‍यों में चुनाव की तैयारी है. राजनीतिक दलों ने सार्वजनिक रैलियों को बंद करने और अपने कार्यक्रमों को वर्चुअली आयोजित करने का फैसला किया है. यहां कोरोना संक्रमण के मामले लगातार मिल रहे हैं. राज्‍य सरकारों ने कोरोना प्रोटोकॉल के तहत कई तरह की पाबंदियां भी लगाई हैं.

    Tags: Corona virus cases, Election commission, Prashant Kishor



    Source link

    Latest articles

    spot_imgspot_img

    Related articles

    Leave a reply

    Please enter your comment!
    Please enter your name here

    spot_imgspot_img